31 जुलाई 2011

कथा सम्राट को हार्दिक नमन

आज कथा सम्राट प्रेमचंद का जन्मदिन है. हिन्दी लिखने वालों के लिए प्रेमचंद धर्म-पिता सदृश हैं. इस अवसर पर  इससे ज्यादा क्या कहा जाए ! इन्हीं शब्दों के साथ उन्हें शत-शत नमन..

तस्वीर गूगल से 

5 टिप्‍पणियां:

  1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  2. रंगनाथ जी, अपने झोले में से निकाल कर कोई कहानी या लेख पढ़ा देते तो मज़ा आ जाता!

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  3. भारत, कोशिश रहेगी कि बहुत जल्द प्रेमचंद के किसी लेख को प्रस्तुत करूँ.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  4. प्रेमचंद जी को नमन..इंतज़ार रहेगा आपके द्वारा पोस्ट..उनके आलेख का..

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं